Google+ Badge

Showing posts with label Soar prices. Show all posts
Showing posts with label Soar prices. Show all posts

Friday, August 14, 2009

Reducing.....

कम करदी


उनके शीरी थे सुखन हम ने शकर कम करदी,

रक्त का चाप बढ़ा, हमने फिकर कम करदी।


बढ़ते दामो ने बिगाड़ा है बजट क्या कीजे,

तंग जब पेंट हुई, हमने कमर कम करदी।


महंगी चीजों से हुआ इश्क, ख़ुदा ख़ैरकरे,

उनको उल्फत थी उधर, हमने इधर कम करदी।


अब ''फ्लू'' फूला-फला है तो अजब क्या इसमे !

चाँद को पाने में धरती पे नज़र कम करदी।


दीद के बदले सदा* छींकों की सुनली जबसे,
उनके कूंचे से अभी हमने गुज़र कम करदी


*गूँज

-मंसूर अली हाशमी