Google+ Badge

Monday, May 5, 2014

फेसबुक एक नकली किताब !

फेसबुक पर 10 करोड़  fake accounts है - एक खबर)

फेसबुक एक नकली किताब !

#  ख़ूबसूरत बला की है आप

$  आप भी कम नही है जनाब.

#  शुक्रिया,  मेरी बीवी भी  है

$  मेरे मिस्टर  भी है लाजवाब.

#  Facebook  पर है किस की तलाश ?

$  Kiss ?  हम को शरमाओ न भाईसाब !

#  चल दिये फिर तो,  बहना सलाम

$  ओ मुए,  तेरा ख़ाना ख़राब.......

'हाशमी' तू भी  फोटो  बदल 
तब ही हो पायेगा कामयाब ! 
-मंसूर अली हाशमी 

Thursday, May 1, 2014

गुदगुदी


गुदगुदी - गुदगुदी - गुदगुदी!

'राय'  उनको भी अब मिल गयी
बाँटते रहते थे जो कभी.
पोलें खोळी थी जिसने  बहुत
'पोल' उसकी भी लो अब खुली.

फूल * कांटा बने न कहीं              (*कमल का)
ऊंगलीयाँ * खुद की दुशमन बनी.      (*मोदी की)

'बाबा'  - "हनी"  पे अब "मौन"  है!
'योग'  'संयोग' मे है ठनी.

है दिवस आज मज़दूर का
छुट्टी  पहचान इसकी बनी!

'रागे पण्डित' पे खामौश शैर*       (*कशमीर के)
खुद पे आयी तो चुप्पी लगी!

'राखी- प्रियंका -  उमा' भी है,
इनपे भी कुछ लिखो 'हाशमी'.

-मंसूर अली हाशमी